#Kanpur : नव चेतन महिला समिति का तीन दिवसीय दुर्गा पूजा कार्यक्रम 2 अक्टूबर को होगा प्रारंभ।

कानपुर- विगत 4 वर्षों से निरंतर दुर्गा पूजा का कार्यक्रम आयोजित कर रही नव चेतन महिला समिति के कार्यक्रम इस बार 2 अक्टूबर से शुरू होगा जिसकी मुख्य अतिथि विधायक नीलिमा कटियार होंगी विशिष्ट अतिथि पूनम कपूर और रंजना शुक्ला होंगी जो डांडिया रास का शुभारम्भ करेंगीं यह जानकारी संस्था की संस्थापक नीतू गुप्ता ने शुक्रवार को कानपुर जर्नलिस्ट क्लब में आयोजित प्रेसवार्ता में दी।
संस्थापक नीतू गुप्ता ने बताया कि उनकी संस्था महिलाओं को आत्म-निर्भर प्रशिक्षण केन्द्र को संचालित करती है और उनके साथ लगभग 1500 महिलाएं जुड़ी हुई है जो अपने अपने कुटीर उद्योग चला रही है और इस कार्य मे संस्था उनके सहयोग के लिए तत्पर्य रहती है। संस्था की नव चेतन दुर्गा पूजा कमेटी 4 साल से एस्काट वर्ल्ड स्कूल केशवपुरम् के सामने स्थित पार्क में दुर्गा जी के स्वरूपों की स्थापना करते है। इसमें दुर्गा जी के लक्ष्मी स्वरूप, सरस्वती स्वरूप शक्ति स्वरूप की पूजा व अर्चना की जाती है समिति की महिलाएं व लोगों के सहयोग से हर वर्ष इस कार्यक्रम को भव्य से भव्य बनाने का प्रयास करते है। इसी प्रयास को क्रमबद्ध करते हुए इस वर्ष भी..... रविवार 2 अक्टूबर 2022 को प्रातः 09:00 बजे दुर्गा जी के लक्ष्मी स्वरूप की स्थापना व पूजा-अर्चना की जाएगी व शाम को 06:00 बजे माँ की भव्य आरती की जाएगी तथा 3 अक्टूबर को प्रातः 09:00 बजे दुर्गा जी के सरस्वती स्वरूप की पूजा-अर्चना की जाएगी एवं सायं को माँ को भव्य आरती होंगी 4 अक्टूबर को दुर्गा जी के शक्ति स्वरूप की पूजा-अर्चना व शाम को माँ की आरती एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम हमारे प्रशिक्षण केन्द्र के बच्चों के द्वारा प्रस्तुत कराया जाएगा तथा 5 अक्टूबर को कन्या पूजन व भंडारा कराया जाएगा। नव चेतन महिला माँ की प्रतिमा का विसर्जन किया जाएगा पत्रकार वार्ता में अध्यक्ष भावना श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष कल्पना गुप्ता, मंत्री प्रांजल गुप्ता, (पूजा मंडल प्रमुख) सरिता चौरसिया मौजूद रही।

Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

कानपुर : वायरल ऑडियो मामले में पुलिस को दी गयी तहरीर, निदेशक बोले संस्थान की छवि धूमिल करने की हो रही साजिश।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।