30 मई हिंदी पत्रकारिता दिवस : स्वतंत्र एवं निष्पक्ष मीडिया लोकतंत्र की आत्मा-अभय त्रिपाठी

कानपुर। हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर गुरुवार को अशोक नगर स्थित कानपुर जर्नलिस्ट क्लब में राष्ट्र निर्माण में मीडिया की भूमिका विषय पर एक परिचर्चा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जर्नलिस्ट क्लब के महामंत्री अभय त्रिपाठी ने की सर्वप्रथम अमर शहीद गणेश शंकर विद्यार्थी जी के चित्र का माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री त्रिपाठी ने कहा कि स्वतंत्र और निष्पक्ष मीडिया लोकतंत्र की एक आत्मा है। हिन्दी पत्रकारिता के 196 वर्ष हो गए। इतनी लंबी अवधि एवं सफर में हिन्दी पत्रकारिता काफी विकसित एवं आधुनिक हो गई है, मीडिया लोकतंत्र का रक्षा कवच है। यह समाज का थर्मामीटर है। यह प्रतिकूल समाज वातावरण और परिस्थितियों के भार को जानने का बैरोमीटर है।


 वरिष्ठ पत्रकार कैलाश अग्रवाल ने कहा कि मीडिया राजनीतिक व सामाजिक भूकंप के क्रमिक कंपन को जान कर लोगों तक पहुंचाता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र के निर्माण में मीडिया की भूमिका को भुलाया नहीं जा सकता। देश और समाज के प्रति उनकी जवाबदेही काफी बढ़ी है। वरिष्ठ पत्रकार कुमार त्रिपाठी ने कहा मीडिया लोकतंत्र का मजबूत स्तंभ है। पत्रकारिता के तीन आदर्श है। स्वतंत्र, निष्पक्षता एवं सत्यता वही मीडिया की जननी है। इसके बिना जनतंत्र की कल्पना करना असंभव है। वरिष्ठ पत्रकार शैलेन्द्र मिश्र ने कहा कि मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है। पत्रकारिता में वह शक्ति है जो किसी तलवार और गोले-बारूद में नहीं होती। इसके बिना राष्ट्र पंगु जैसा है। बदलते परिवेश में मीडिया की भूमिका और सतर्कता काफी बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि समाज और मीडिया का अटूट रिश्ता है। सरकार की योजना व नीतियों की जानकारी सबसे पहले मीडिया द्वारा ही नागरिकों को मिलता है। कार्यक्रम के मौके पर जर्नलिस्ट क्लब के मन्त्री विक्की रघुवंशी, सयुंक्त मन्त्री आलोक अग्रवाल,  रितेश शुक्ला, पुष्कर बाजपेयी, जीपी अवस्थी, अंकित अग्निहोत्री, विशाल सैनी समेत अन्य पत्रकार मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

कानपुर : कब्जा रोकने पर दबंगो ने महिला के कपड़े फाड़े, पुलिस पर दबंग भूमाफियाओं से मिलीभगत के आरोप।

कानपुर किदवईनगर विधानसभा- महेश त्रिवेदी और अजय कपूर में काँटे की टक्कर।