ईमानदारी, निष्ठा और सम्मान मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण - संगीता जोशी

गुजरात की जानी-मानी अदाकारा एवं स्टेज, टीवी और फिल्मों में बेहतरीन काम कर चुकीं अनुभवी अभिनेत्री संगीता जोशी आजाद चैनल के नए शो ‘मेरी डोली मेरे अंगना’ में इंदुलता के रोल में नजर आ रही हैं। विभिन्न टीवी सीरीज में नजर आ चुकीं संगीता जोशी गुजरात के कई टीवी सीरियल्स शीर्ष भूमिका निभा चुकी हैं। एक खास बातचीत में उन्होंने अपने नए रोल और अन्य बहुत-सी बातों के बारे में चर्चा की। 
- गुजराती सीरियल से हिंदी शो करने तक का आपका सफर ?
हिन्दी हमारी राष्ट्रभाषा है और बचपन से मुझे हिंदी बोलने में बहुत मजा आता है। मैं स्कूल में चंदा मामा पढ़ती थी। कॉलेज में मैं धर्मयुग, मेरी सहेली और अन्य हिंदी पत्रिकाएं पढ़ा करती थीं। मैंने मुंशी प्रेमचंद की कहानियां पढ़ने का भी लुत्फ उठाया है। मैं एक गुजराती परिवार में जन्मी हूं और मैंने अपने अभिनय करियर की शुरुआत गुजराती मंच से की थी। धीरे-धीरे मैंने हिंदी टीवी धारावाहिकों और फिल्मों में प्रवेश किया। इस भाषा में काम करना बहुत आसान था, क्योंकि मैं धाराप्रवाह हिंदी बोल सकती थी। मुझे हिंदी फिल्में और टीवी धारावाहिक करने में मजा आता है। 
- ‘मेरी डोली मेरे अंगना’ में आपकी भूमिका?
इंदुलता मुख्य नायिका जानकी की एक अच्छी और सजग मां हैं। फिलहाल मेरा किरदार एक सकारात्मक मां का है लेकिन मुझे बताया गया है कि कहानी के एक मोड़ पर मेरा किरदार नकारात्मक भी होगा। मुझे भी इसका इंतजार है। मुझे इंदुलता कहा जाता है और यह मजेदार है कि घर पर आजकल मेरे पति मुझे इंदु और लता कहते हैं। 
- ‘मेरी डोली मेरे अंगना’ जैसे शो को चुनने की कोई खास वजह?
आजाद एक नया चैनल है, जो विशेष रूप से गांव प्रेमी भारतीय दर्शकों के लिए बनाया गया है, और इसी खासियत ने मुझे इस चौनल के पहले टीवी शो की ओर आकर्षित किया। इस धारावाहिक में मेरा किरदार बड़ा दिलचस्प है, क्योंकि इसमें कई अलग-अलग रंग हैं और मुझे अलग-अलग चुनौतीपूर्ण भूमिकाएं करना पसंद है। यह शो सोमवार से शनिवार रात नौ बजे प्रसारित हो रहा है।
- महामारी के साथ शूट करना कितना मुश्किल है?
हां, हमें सावधान रहना चाहिए, दूरी बनाए रखना, मास्क का उपयोग करना और समय-समय पर सैनिटाइजर का उपयोग करना चाहिए। मुंबई में भी अब लोग इसका पालन करते हैं और स्वच्छता रखने का प्रयास कर रहे हैं। श्मेरी डोली मेरे अंगनाश् के सेट पर भी काफी सावधानी बरती जाती है। सभी लोग मास्क पहनते हैं और सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हैं। सेट पर निर्माताओं द्वारा की गई व्यवस्था ने सभी कलाकारों को निडर और कम्फर्टेबल बना दिया है।
- एक्टिंग को करियर बनाने के लिए आपको किस बात ने प्रेरित किया?
मुझे लगता है कि मैं एक कलाकार बनने के लिए पैदा हुई थी। एक कलाकार होने की मेरी स्वाभाविक प्रवृत्ति ने मुझे मंच, फिल्मों और टीवी धारावाहिकों में काम करने के लिए प्रेरित किया।
- आपकी पसंदीदा भूमिकाएं क्या रही हैं?
मैंने कई भूमिकाएं निभाई हैं और वे सभी मेरी पसंदीदा रही हैं। मुझे मुश्किल भूमिकाएं निभाना भी पसंद है, जिससे मुझे अपना एक्टिंग टैलेंट दिखाने का मौका मिलता है। ‘मेरी डोली मेरे अंगना’ में मेरी वर्तमान भूमिका बहुत दिलचस्प मालूम होती है, क्योंकि मुझे पहले एक प्यार करने वाली मां के रोल में और फिर एक सास के रोल में एक बहुत ही अलग किरदार में अभिनय करना है।
- आपके व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में आपके लिए क्या महत्वपूर्ण है?
ईमानदारी, निष्ठा, सम्मान और पारिवारिक संबंध मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण हैं। मैं एक अच्छी इंसान कहलाना पसंद करूंगी। अपने करियर में मुझे एक्टिंग करना पसंद है। मैं अच्छे और नकारात्मक किरदारों सहित विभिन्न प्रकार की भूमिकाएं करना चाहती हूं। इंदुलता के किरदार के अलग-अलग रंग हैं।

Comments

Popular posts from this blog

Kanpur News-"आपदा को अवसर" में बदलने वाले कानपुर के दो युवा बने मिसाल, 70 हज़ार लोगों को 6 माह में दिया रोजगार..

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

Make In India: योगी सरकार के मंत्रियों ने लॉन्च किया, यूपी का पहला Redmil माइक्रो एटीएम।