हाथरस मामला: जिन्हें विकास पसंद नहीं, वो दंगा फैलाना चाहते हैं: योगी आदित्यनाथ 


हाथरस मामले में विरोध प्रदर्शन कर रहे विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिसे विकास अच्छा नहीं लगता, वो जातीय और सांप्रदायिक दंगा भड़काना चाहते हैं.


 


उन्होंने कहा, "दंगों की आड़ में उन लोगों को राजनीतिक रोटियां सेंकने का मौक़ा मिलेगा, इसलिए वो आए दिन नई साजिशें रचते हैं. इन साजिशों के प्रति पूरी तरह आगाह होते हुए हमें विकास की प्रक्रिया को तेज़ी से आगे बढ़ाना है."


 


मुख्यमंत्री ने रविवार को वीडियो कांफ्रेंसिग के ज़रिए मंडल, सेक्टर और बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं और नेताओं से बात करते हुए ये बातें कहीं.



साथ ही योगी आदित्यनाथ ने एक ट्वीट भी किया, "संवाद के माध्यम से बड़ी से बड़ी समस्याओं का समाधान संभव है. नए उत्तर प्रदेश में संवाद ही सारी समस्याओं के समाधान का माध्यम है."



उन्होंने लिखा कि पुलिस विभाग को माताओं एवं बहनों से संबंधित विषयों तथा अनुसूचित जाति व जनजाति से जुड़े मुद्दों में अति संवेदनशीलता और सक्रियता से काम करने की आवश्यकता है.


हाथरस कांड के बाद से देश भर में विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं. उत्तर प्रदेश की कुछ जगहों पर विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़पें भी हुई हैं.


 


विपक्षी दल पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठा रहे हैं. वो पुलिस पर इस मामले में लीपापोती करने का आरोप लगा रहे हैं.


 


कांग्रेस नेता राहुल गांधी और यूपी कांग्रेस की प्रभारी प्रियंका गांधी पीड़ित परिवार से मिलने भी जा चुके हैं.


 


तेज़ होने विरोध प्रदर्शनों के बीच योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश की है.


 


उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भरोसा दिलाया कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि जो लोग राज्य में माताओं और बहनों के सम्मान के चोट पहुंचाने की कोशिश करेंगे उनका नाश कर दिया जाएगा.


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट