विकास दुबे और उसके गुर्गों के खिलाफ दाखिल तमाम शिकायतें निकलीं फर्जी

 



कानपुर के बिकरू कांड के मुख्य आरोपित विकास दुबे के मारे जाने के बाद उसके गुर्गों की शिकायतें जितनी तेजी से बढ़ रही हैं। उतनी तेजी से फर्जी तरह से शिकायत करने वालों की भी संख्या बढ़ रही है। पुलिस जांच में अब तक लगभग एक दर्जन शिकायतें फर्जी निकली हैं। सभी प्रार्थना पत्रों की जांच जारी है। इनमें से जो शिकायतें सही निकल रही हैं। उनपर पुलिस द्वारा कार्रवाई भी की जा रही है।


 


विकास दुबे की मौत के बाद बिकरू और उसके आसपास के गांवों में विकास दुबे और उसके गुर्गों से पीड़ित लोग पुलिस के सामने पेश होने लगे। हाल में जब डीआईजी ने शिकायती पत्र को लेकर जानकारी जुटाई तो पता चला कि चौबेपुर थाना, सीओ बिल्हौर, एसपी ग्रामीण, डीआईजी, आईजी और एडीजी तक 100 से अधिक प्रार्थना पत्र अब तक दिए जा चुके हैं। डीआईजी ने सभी प्रार्थना पत्रों की जांच सीओ बिल्हौर को सौंपी थी।


 


 


विकास और उसके गुर्गों को लेकर बहुत सारी शिकायतें प्राप्त हुई थीं। सभी की जांच कराई जा रही है। उसमें से कई ऐसी हैं जो फर्जी निकली हैं। उनमें कुछ के नाम पते गलत हैं या है ही नहीं। इन शिकायतों की भी जांच हो रही है। अगर मामले सही पाए गए तो सभी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।- मोहित अग्रवाल, आईजी रेंज


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

कानपुर : वायरल ऑडियो मामले में पुलिस को दी गयी तहरीर, निदेशक बोले संस्थान की छवि धूमिल करने की हो रही साजिश।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।