ऑनलाइन कॉल गर्ल रैकेट पकड़ा, दिल्ली, एमपी और असोम की नौ युवतियों समेत 20 गिरफ्तार

 



कानपुर-शहर के नौबस्ता व आसपास क्षेत्र में आॅनलाइन संचालित देह व्यापार के रैकेट का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। ट्वीटर लिंक पर ग्राहक बनकर सरगना तक पहुंची पुलिस ने रैकेट में शामिल दिल्ली, मध्यप्रदेश व असोम की युवतियों समेत बीस लोगों को गिरफ्तार किया है। यह गैंग ऑनलाइन ग्राहक फंसाता था और पसंद की गई कॉल गर्ल बताए ठिकाने पर भेजता था।


 


नौबस्ता थाने में कानपुर एसपी साउथ ने प्रेस कॉंफ्रेंस में बताया कि नौबस्ता पुलिस और साइबर सेल ने ट्वीटर पर दिए लिंक से मोबाइल नंबर ट्रेस किया। पुलिस ने ग्राहक बनकर इटावा ककरैया सैफई निवासी आशीष कुमार को गिरफ्तार किया। उसकी निशानदेही पर मछरिया निवासी ईरान उर्फ राजू और राजू की निशानदेही पर कल्पना गुप्ता को गिरफ्तार करके पूरे रैकेट का पर्दाफाश किया है। तीनों मिलकर बड़े स्तर पर आॅनलाइन कॉल गर्ल रैकेट का संचालन कर रहे थे।


 


ब्रोकर और रैकेट के सरगना आशीष कुमार को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस टीम ने सतबरी, नौबस्ता चौराहा, यशोदा नगर चौराहा, किदवई नगर चौराहा समेत अन्य स्थानों पर छापेमारी करके देह व्यापार में लिप्त युवक और युवतियों को गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी नौबस्ता कुंज बिहारी मिश्र ने बताया कि पकड़े गए लोगों के पास से 21 मोबाइल, दो बाइक व दो स्कूटी बरामद हुई हैं।


 


ये हुए गिरफ्तार


 


 


आशीष कुमार ककरैया सैफई इटावा, मछरिया के इरान उर्फ राजू, लाल बंगला चकेरी के यश मल्होत्रा, सलेमपुर महाराजपुर के सोनू पासवान, गल्ला मंडी नौबस्ता के राहुल, रामलीला मैदान साकेत नगर सुशील अवस्थी, भोगनीपुर कानपुर देहात के सुशील, काकादेव पांडु नगर के विवेक राठौर, शास्त्री नगर निवासी प्रमोद कुमार उर्फ जीतू, बर्रा दो निवासी नीरज साहू, गोविंद नगर निवासी राहुल हलवाई।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट