कानपुर हत्याकांड : पुलिस को चकमा देकर फिर धरने पर बैठे संजीत के परिजन

 



कानपुर में हुए संजीत यादव अपहरण-हत्याकांड मामले में एक बार फिर उसके परिजन पुलिस को चकमा देकर शास्त्री चौक पर अनिश्चितकालीन धरने के लिए बैठ गए। हालांकि पुलिस ने तुरंत उन्हें वहां से उठा लिया। पीड़ित परिवार न्याय ने नारको टेस्ट की याचिका खारिज होने पर नाराजगी जताते हुए सरकार से अपनी मांगों को तुरंत पूरी करने की मांग की।


 


मंगलवार सुबह वकील से मिलने की बात कहकर पुलिस को चकमा देकर निकले संजीत के पिता चमनलाल, बहन रुचि और मां कुसमा शास्त्री चौक पहुंचकर मांगे मनवाने को लेकर धरने पर बैठ गए। मौके पर सर्किल का और एसपी साउथ दीपक भूकर पहुंचे। नौबस्ता पुलिस मां और बेटी को वहां से ले गई इस दौरान पुलिस ने उनकी काफी धक्का-मुक्की हुई और बेटी सड़क पर लेट गई। जबकि मां कुसमा को पुलिस घर ले आई।


 


 


बेटी रुचि ने पुलिस पर मां कुसमा को पीटने का आरोप लगाकर हंगामा किया उसका कहना था कि पुलिस उसे भी मार डालेगी। वही घर पर मौजूद कुसमा ने कहा की पुलिस उसके पति और बेटी से मिलने नहीं दे रही है। हंगामे को देखते हुए घर पर भी काफी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

कानपुर : कब्जा रोकने पर दबंगो ने महिला के कपड़े फाड़े, पुलिस पर दबंग भूमाफियाओं से मिलीभगत के आरोप।

कानपुर किदवईनगर विधानसभा- महेश त्रिवेदी और अजय कपूर में काँटे की टक्कर।