#कानपुर मेडिकल कॉलेज प्राचार्य आरती लाल चंदानी को मिली सिक्योरिटी।


कानपुर-तब्लीगी जमात को लेकर टिप्पणी करने वाला वीडियो वायरल होने के बाद चर्चा में आई जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज प्राचार्य प्रो.आरती लाल चंदानी को पुलिस विभाग की ओर से सुरक्षा दी गयी है। ऐसा उनका फोन हैक होने और शोशल मीडिया पर लगातार धमकी भरी टिप्पणियों को देखते हुए किया गया 70 दिन पुराना वीडियो वायरल के बाद लगातार तीखी प्रतिक्रिया आयी है। खतरे की आशंका जताने पर प्रशासन ने प्राचार्य को आर्म्स गार्ड मुहैया करा दिया है।


आईएमए भी समर्थन में आया सीएम को भेजा ज्ञापन।


वही प्राचार्य डॉ आरती लाल चंदानी के समर्थन में शुक्रवार रात डॉक्टरों की संस्था आईएमए खुलकर सामने आ गई। आईएमए के पूर्व और मौजूदा अध्यक्ष के साथ एक्शन कमेटी ने मोर्चा संभालते हुए मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा। इसमें प्राचार्य को कोरोना वॉरियर बताते हुए उन्हें प्राचार्य पद पर बनाए रखने की मांग की गई है। 


आईएमए एक्शन कमेटी चेयरमैन डॉ. अवध दुबे, अध्यक्ष डॉ. रीता मित्तल, सचिव डॉ. गौरव दुबे समेत कई वरिष्ठ डॉक्टरों ने देर रात में डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी से मुलाकात की। आईएमए की ओर से सीएम को संबोधित ज्ञापन में कहा गया है कि प्रो.आरती की अगुवाई में ही कोरोना की लड़ाई लड़ी जा रही है। डॉक्टरों और पैरा मेडिकल स्टॉफ का ध्यान रखकर उन्होंने कोरोना मरीजों को ठीक करने में सफलता पाई है। डॉक्टरों की टीम अभी भी लड़ रही है। इसलिए आईएमए का हर सदस्य उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहा है। ऐसे में मेडिकल कॉलेज में उनका आगे की लड़ाई में रहना जरूरी है।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

Make In India: योगी सरकार के मंत्रियों ने लॉन्च किया, यूपी का पहला Redmil माइक्रो एटीएम।

Kanpur News-"आपदा को अवसर" में बदलने वाले कानपुर के दो युवा बने मिसाल, 70 हज़ार लोगों को 6 माह में दिया रोजगार..