#Lockdown-कानपुर में फँसे 1000 कोचिंग छात्र-छात्राओ को उनके घर किया गया रवाना।


लॉक डाउन में फंसे थे प्रदेश के कई जिलों के हजारों छात्र.छात्राये,मुख्यमंत्री योगी ने  लिया संज्ञान 40 बसे भेजी गई निशुल्क बस सेवा के तहद सभी को किया गया रवाना।


कोरोना संकट के दौरान लॉक डाउन में कानपुर काकादेव कोचिंग मंडी में कोचिंग के लिए आये हजारो स्टूडेंट्स जो कि प्रदेश के विभिन्न विभिन जिलो से यहाँ पढ़ने के लिए आये थे वो यहाँ लॉक डाउन में अपनों से दूर फॅसे थे ।आज उन्हें राहत मिली है कि वो आज अपने घर जाकर अपने परिजनों से मिल सकेंगे।अपने गंतत्व पर जाने की खुशी उनके चेहरे पर संतुष्ठ भाव से देखा जा सकता है।


कानपुर के काकादेव में कोचिंग करने आये हजारो स्टूडेंट्स को खाने की व्यवस्था कराई गई है इन सभी को प्रदेश के कई जिलों में बसों द्वारा निशुल्क  हजारो स्टूडेंट्स को उनके घर भेजा जा रहा है योगी सरकार ने संज्ञान लेते हुए 40 बसे भेजी है वही सरकार के इस कदम से स्टूडेंट्स काफी खुश नजर आ रहे है।


विधायक सुरेंद्र मैथानी ने सभी को जलपान कराके किया रवाना।


विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी की सकारात्मक सोच एवं  सभी की मदद में, समर्पण के भाव के कारण ही, जिला पुलिस प्रशासन,रोडवेज के अधिकारियों का एवं केडीए के संबंधित अधिकारियों के साथ,जबरदस्त समन्वय दिखाई दिया ।और बहुत ही व्यवस्थित तरीके से,प्रत्येक बस में सूचीबद्ध छात्रों को,उनके गंतव्य तक,उनका यहां से प्रस्थान हुआ। एक समय ऐसा भी आया, जब सभी रोडवेज के चालक व कंडक्टर ने सामूहिक रूप से मांग करी कि, हमारे लिए सैनिटाइजर, मास्क और ग्लब्स की व्यवस्था ना होने से,हम लोग डरे हुए हैं। तत्काल प्रत्येक ड्राइवर और प्रत्येक क्लीनर को,मास्क, हैंड ग्लब्स, सैनिटाइजर की शीशी, भेंट कर और उनका रसगुल्ले से मुंह मीठा कराकर, शुभ यात्रा की मंगलकामना देकर,रवानगी कराई गई।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट