#Kanpur-कोरोना संकट में जरुरमन्दों की मदद के लिए आगे आया, सिंघनिया परिवार हम गरीबों के साथ खड़े।



कानपुर-भारत में कोरोना वायरस को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में 21 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा कर दी थी। जिसके बाद, सभी कारखाने, ऑफिस, स्कूल आदि बंद हो गए। सिर्फ राशन सम्बंधित दुकानें खोले जाने के आदेश थे, लेकिन अब लॉकडाउन के चलते आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, लोग घरों में बंद हैं और घर में ही उपलब्ध चीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं। एक तरफ जहां मध्यमवर्गीय परिवार राशन की कमी को लेकर परेशान है तो वहीं कुछ परिवार ऐसे भी हैं जो लॉकडाउन की वजह से भूखे सो रहे हैं।


ये वो तबका है जो रोज कमाता खाता है। लॉकडाउन के बाद इनके काम बंद हो गए हैं और अब ये लोग दो वक्त की रोटी के लिए तरस रहे हैं। इन हालातों को देखते हुए JK ग्रुप ने गरीब परिवारों की मदद करने की ठानी है। जेके ग्रुप अभिषेक सिंघनिया की पुत्री वेदिका सिंघनिया ने शहर के जरुरमन्द गरीब परिवारों तक राशन की सामग्री आसानी से पहुँचे इसलिए शनिवार को डीएम डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी को 500 राशन किट, 100 PPE किट व 10 हजार मास्क दिये। इस अवसर पर जेके ग्रुप के  संजय दुबे भी उपस्थित रहे।


क्या होगा इस किट में
बताया गया कि जेके ग्रुप की इस ‘किट’ में राशन जैसे 5 किलो आटा, 2 किलो चावल, 2 किलो अरहर दाल, 2 किलो शक्कर, तेल, साबुन  शामिल होगा।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।

कान्यकुब्ज ब्राम्हण समाज का सामूहिक वैवाहिक समारोह एवं यज्ञोपवीत कार्यक्रम 27 फरवरी को।