#Kanpur-आगरा में पत्रकार की कोरोना से मौत के बाद दुखी हैं देश के पत्रकार ध्यान दे योगी सरकार !

 


▶कोरोना से पत्रकार की मृत्यु दुखद, सरकार मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे


कानपुर जर्नलिस्ट क्लब ने कोरोना से आगरा के वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ की मृत्यु को दुखद बताते हुए प्रदेश की योगी सरकार से पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपये के मुआवजे की मांग की है।


जर्नलिस्ट क्लब के चैयरमैन सुरेश त्रिवेदी ने कहा कि प्रदेश सरकार मृतक पत्रकार के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे। कोरोना से उत्तर प्रदेश में किसी पत्रकार के निधन की यह पहली घटना है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के इस दौर में पत्रकार योद्धा की तरह जान जोखिम में डाल कर दिन रात मेहनत कर रहे हैं और सरकार के जनकल्याण के कदमों, फैसलों की जानकारी के साथ जनता को महामारी से बचाव के लिए जागरूक भी कर रहे हैं।


अध्यक्ष ओम मिश्रा और महांमत्री अभय त्रिपाठी ने कहा कि अफसोस की बात है कि जर्नलिस्ट क्लब ने बीते 12 अप्रैल को प्रदेश सरकार को ज्ञापन देकर व ट्वीट कर सभी पत्रकारों को 50 लाख का बीमा कवर देने की मांग की थी। इस मांग पर अविलंब सकारात्मक कारवाई की अपेक्षा है। पत्रकारों को कोरोना वारियर्स की श्रेणी में रखने हुए उनकी समुचित सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार को उठानी चाहिए। यही नहीं सभी पत्रकारों को बीमा कवर के साथ ही इस महामारी से जीवनहानि होने की दशा में मुआवजे व नौकरी का प्रावधान किया जाना चाहिए।


जर्नलिस्ट क्लब के सँयुक्त मंत्री आलोक अग्रवाल ने कहा एक पत्रकार कोरोना से लड़ते शहीद हुआ। यह पत्रकारों के लिए बड़ा सदमा है। अब हम पत्रकार बिरादरी और सरकार का धर्म है कि आगरा के पत्रकार पवन कुलश्रेष्ठ के परिवार का ध्यान रक्खे।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट