कानपुर में CISF ASI की बदमाश हत्या कर हो रहे थे फरार,पुलिस ने सिंघम स्टाइल में दबोचा।


कानपुर के पनकी इलाके में लाकडाउन की आड़ में सरेआम सीआईएसएफ ASI की हत्या कर दी और शव को नहर किनारे फेंक कर फरार हो गए थे लेकिन इस घटना से पुलिस की सक्रियता साबित कर दी हत्या के तुरंत बाद पूरे जिले को हाई अलर्ट कर ब्लैक स्कार्पियो सवार बदमाशों की तलाश शुरू कराई, पुलिस की सजगता से हत्या कर भाग रहे स्कॉर्पियो सवार बदमाशों को शिवराजपुर और चौबेपुर पुलिस ने सिंघम स्टाइल में दबोच लिया।


गौरतलब है की पुलिस कोरोना संकट में लाकडाउन में चप्पे -चप्पे पर निगरानी कर रही है यहाँ तक कि नगर की हर गतिविधियों की नजर के लिए ड्रोन कैमरे की भी मदद ली जा रही है लेकिन अपराधियों ने पुलिस की चौकसी की धज्जियां उड़ाते हुए इटावा के रहने वाले 40 वर्षीय सीआईएसएफ ASI रामवीर सिंह जो की इनदिनों पनकीं पॉवर हाउस में तैनात थे की हत्या कर हत्यारे ASI की स्कार्पियो लूट कर पुलिस के होश उड़ा दिए थे लेकिन आज कानपुर पुलिस ने साबित कर दिया कि पुलिस के हाथ लम्बे होते है और पुलिस पीछे पड़ जाए तो क्राइम कर भागना मुश्किल ही नही नामुमकिन है पुलिस ने हत्यारों को स्कार्पियो समेत दबोच लिया।


पनकी इलाके में मिर्जापुर क्षेत्र में मौजूदा नहर के किनारे काली हत्यारो ने ईंटो से कुचलकर शव को फेंक कर फरार हो गए ।घटना की सूचना पाकर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए और तफ्तीश में जुट गए है वही पूरे कानपुर पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया गया कि काली स्कार्पियो गाड़ी पर सघन चेकिंग अभियान चलाए वही मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है पुलिस की माने तो हर बिन्दुओ की जांच की जा रही है पुलिस जल्द ही गुत्थी को सुलझा में जुटी थी, इसी दरम्यान शिवराजपुर थाने की पुलिस के घेराबंदी में बदमाश फास गए, जानकारी के मुताबिक़ पुलिस ने भाग रहे बदमाशों को शिवराज पुर बाज़ार में धर दबोचा. एक बदमाश उसमे से भागने की कोशिश कर रहा था जिसे पुलिस ने दौड़ा कर पकड़ा, जबकि एक ने अपने दोनों हाथ उठाकर पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. फ़िलहाल अब पुलिस ये पता लगाने में जुट गयी है कि आखिर इस युवक की हत्या क्यों की गयी, ये युवक कहाँ का रहने वाला है।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट