कानपुर में 3 वर्ष की मासूम कोरोना पॉजीटिव बच्ची बनी प्रेरणाश्रोत,वीडियो वायरल।


▶अवोध बच्ची जिसे वीमारी का इतना ज्ञान नही है उसने दूसरे को जीने के लिए प्रेरित किया है।


कानपुर-किसी ने कहा है कि जिंदगी जिंदादिली का नाम है मुर्दा दिल क्या खाक जिया करते है जहाँ एक ओर पुरे देश मे कोरोना को लेकर हर कोई खौफ जदा है अधिकांश ऐसे केस भी निकल कर आ रहे है कि कोई सेनिटाइजर पी रहा है तो कोई डिस्प्रेशन में जा रहा है तो कोई निराशा हाथो मजबूर होकर जिदगी जीने के लिए हिम्मत के हथियार गिराए पड़ा है।
ऐसे में एक मासूम जो कि 3 वर्ष की बच्ची है जोकि कोरोना संक्रिमित है लेकिन उसके अंदाज ने दिखा दिया है कि मुश्किल कितनी बड़ी क्यो न हो उसे हौसले से जीत लिया जाता है 


कानपुर के काशी राम ट्रामा सेंटर में भर्ती यह बच्ची 3 वर्षीय है जोकि कोरोना संक्रिमित पेशेंट है आज इस बच्ची ने अपने वार्ड में मौजूदा वे ड जिसमे बो एडमिड है उसने एक मनमोहक डांस कर अन्य कोरोना पॉजिटिव मरीजो को कोरोना जैसी बीमारी से लड़ने के लिए सभी को मोटिवेट किया है जिसे अस्पताल प्रबंधन ने भी सराहा है  काशी राम ट्रामा सेंटर के सी एम एस संतोष पांडे की माने तो इस बच्ची ने सभी को एक प्रेरणा दी है वार्ड के सभी लोग निश्चित तौर पर इस मासूम  हिम्मत से सीखेंगे जो न अभी जिंदगी का अनुभव रखती है ओर न कोरोना वीमारी कुछ है इस अबोध को नही मालूम है।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।

आरोग्यधाम के सदस्यों ने शहरवासियों से इको फ्रेंडली दिवाली मनाने के साथ पर्यावरण को सुरक्षित रखने का किया आवाहन