कोविड-19 आइसीयू में सुबह भर्ती हुए दो कोरोना संदिग्ध, कुछ ही घंटों में तोड़ दिया दम

कानपुर,शहर के कोविड-19 हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले कोरोना संदिग्धों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। बुधवार की सुबह दो संदिग्ध भर्ती हुए और नमूना लिये जाने के कुछ ही देर बाद दोनों इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसमें एक हमीरपुर और दूसरा शहर के यशोदा नगर का रहने वाला था। अबतक मरने वाले कोरोना संदिग्धों का आंकड़ा दस पहुंच गया है, इसमें से एक मरने वाले की रिपोर्ट पॉजिटिव भी आ चुकी है।
जनपद हमीरपुर के एक गांव में रहने वाले 56 वर्षीय व्यक्ति को बुधवार सुबह 10:25 बजे स्वजन गंभीर स्थिति में हैलट अस्पताल लेकर आए थे। ओपीडी गेट पर मेडिकल टीम ने स्क्रीनिंग की तो कोरोना जैसे लक्षण होने पर मेटरनिटी विंग के कोविड-19 हॉस्पिटल की फ्लू ओपीडी भेज दिया। इसी तरह यशोदा नगर निवासी 75 वर्षीय बुजुर्ग को बुखार और सांस लेने में तकलीफ पर सुबह 11.31 बजे हैलट अस्पताल स्वजन लेकर पहुंचे। उनमें भी कोरोना का संदेह था, इसलिए डॉक्टरों ने स्क्रीनिंग करने के बाद कोविड-19 हॉस्पिटल की फ्लू ओपीडी भेज दिया।


कोरोना संदिग्ध दोनों मरीजों की गंभीर हालत को देखते हुए भर्ती कर लिया। उनके थ्रोट और नेजल स्वाब लेकर सुरक्षित करके जांच के लिए जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के कोविड 19 लैब में भेजा गया है। दोनों को अचानक सांस लेने में दिक्कत होने पर न्यूरो साइंस सेंटर के कोविड आइसीयू में शिफ्ट कर दिया, जहां इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई।


हैलट के प्रमुख अधीक्षक प्रो. आरके मौर्या ने बताया कि सुबह दो गंभीर स्थिति में संदिग्ध मरीज आए थे, उसमें एक बुजुर्ग और एक अधेड़ थे। दोनों रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस में आए थे, जिससे निमोकोनियोसिस हो गई थी। कोविड-19 आइसीयू में भर्ती करने के बाद इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई। प्रोटोकॉल अपनाते हुए शवों का अंतिम संस्कार मेडिकल टीम की देखरेख में भैरोघाट स्थित विद्युत शवदाह गृह में कराया गया है।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

कानपुर : कब्जा रोकने पर दबंगो ने महिला के कपड़े फाड़े, पुलिस पर दबंग भूमाफियाओं से मिलीभगत के आरोप।

कानपुर किदवईनगर विधानसभा- महेश त्रिवेदी और अजय कपूर में काँटे की टक्कर।