कानपुर में तब्लीगी जमात केे लोगों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हुआ हजारो घरों में मेडिकल सर्वे।

कानपुर में तब्लीगी जमात केे लोगों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मुस्लिम बहुल इलाकों में डोर-टू-डोर सर्वे हुआ। हालांकि सर्वे में एनपीआर (नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर), एनआरसी (नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस) को लेकर लोगों के दिलों में समाया डर आड़े आ रहा था लेकिन समझाने के बाद सभी ने अपनी जानकारी प्रदान करी।सोमवार को सीओ सीसामऊ त्रिपुरारी पाण्डेय व एसीएम-3 अनिल अग्निहोत्री के नेतृत्व सीसामऊ सर्किल क्षेत्र के थाना  चमनगंज और बजरिया इलाके में  55 मेडिकल टीमो द्वारा सर्वे किया गया है।


सीओ सीसामऊ त्रिपुरारी पाण्डेय ने बताया कि सर्किल के 28 हजार 618 घरों में 1 लाख 71 हजार 708 लोगों का मेडिकल सर्वे किया गया। सर्वे टीमों में आशा कार्यकर्ता, एएनएम और स्वास्थ्य विभाग के दूसरे कर्मचारी भी शामिल रहे। कोरोना पॉजिटिव निकलने वाले जमाती किन-किन क्षेत्रों के मोहल्लों में गए हैं और किस-किस से मिले हैं। इसका ब्यौरा स्वास्थ्य विभाग ने द्वारा जुटाया गया। सभी घरों का सर्वे करा कर हर सदस्य की सेहत की जांच की गयी। जुकाम, बुखार, खांसी, जकड़न वालो से इलाज के लिए प्रपत्र भराया गया, प्रपत्र में परिवार के मुखिया का नाम, मोबाइल नंबर, बीमार सदस्य का नाम आदि डिटेल भरी गयी है।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

कानपुर : वायरल ऑडियो मामले में पुलिस को दी गयी तहरीर, निदेशक बोले संस्थान की छवि धूमिल करने की हो रही साजिश।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।