GOOD NEWS-कोरोना से जंग में कानपुर में 20 मरीजों को मिली जीत।

कानपुर-शहर में रोजाना बढ़ते कोरोना पॉजिटिव केस के बीच सोमवार को कोरोना से जंग एक बड़ी जीत मिली है। सरसौल सीएचसी के कोविड आइसोलेशन वार्ड में भर्ती बीस कोरोना संक्रमितों की तीसरी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। सभी के ठीक हो जाने पर उन्हें सोमवार को डिस्चार्ज कर दिया गया तो उन्होंने खुशी के इन पलों को डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों समेत अफसरों के साथ साझा किया। इस दौरान सीएमओ अशोक शुक्ला व मंडलीय चिकित्सा निदेशक आरपी यादव भी मौजूद रहे। इससे पहले हैलट कोविड-19 हॉस्पिटल में एक बुजुर्ग और छह जमाती संक्रमित जमाती और दो अन्य ठीक हो चुके हैं। इस तरह अबतक कोरोना वायरस से संक्रमित 29 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं।


कानपुर के हैलट अस्पताल के कोविड-19 हाॅस्पिटल में आसोलेशन वार्ड के अलावा सरसौल सीएचसी में भी आइसोलेशन वार्ड बनाया गया था। यहां कानपुर नगर, कन्नौज, इटावा, औरैया में मिले कोरोना संक्रमित मरीजों को शिफ्ट किया गया था, जिन्हें आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करके इलाज किया जा रहा था। इसमें कन्नौज से एक, इटावा से दो, औरैया से छह व कानपुर नगर के बारह संक्रमितों का उपचार डॉक्टर कर रहे थे। यहां भर्ती 21 में 20 संक्रमितों की तीसरी जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ठीक होने पर उन्हें सोमवार को डिस्चार्ज कर दिया गया। इसमें कई जमाती भी थे। एक संक्रमित जमाती को ट्रामा सेंटर रेफर किया गया।


समर्पण से जीती जंग


कोरोना संक्रमित मरीजों के धैर्य और डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ के समर्पण से कोरोना से जंग जीतने में सफलता मिली। इसके चलते सरसौल सीएचसी चर्चा में आ गई है। सभी ठीक होकर अस्पताल से निकले तो डॉक्टरों व कर्मियों ने ताली बजाकर उन्हें विदाई दी, वहीं जाते समय जमाती और दूसरे मरीज भी खुशी की वजह से नम आंखों से अभार प्रकट करते नजर आए। सीएचसी अधीक्षक एसएल वर्मा ने बताया कि अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित 20 मरीजों की तीसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद डिस्चार्ज करके उनके गृह जनपद भेजा जा रहा है, जहां पर उन्हें चौदह दिनों तक क्वाॅरेंटाइन किया जाएगा।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर पुलिस ने दो कुख्यात शूटरों को मुठभेड़ में गोली मारकर किया गिरफ्तार।

Make In India: योगी सरकार के मंत्रियों ने लॉन्च किया, यूपी का पहला Redmil माइक्रो एटीएम।

Kanpur News-"आपदा को अवसर" में बदलने वाले कानपुर के दो युवा बने मिसाल, 70 हज़ार लोगों को 6 माह में दिया रोजगार..