23 दिन के मासूम को हुआ कोरोना वायरस, मां सीने से लगाने चली आई COVID-19 हास्पिटल   







यूपी के आगरा में 23 दिन के बच्चे में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। जबकि उसके माता-पिता के नमूने नकारात्मक आए हैं। बच्चे के चाचा भी संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में सवाल उठा कि दुधमुंहे के साथ कौन रहेगा। उसकी देखभाल कौन करेगा। मां की गोद कैसे नसीब होगी। इसका फैसला मां ने पल भर में ले लिया। साफ कह दिया कि बेटे को अकेला नहीं छोड़ेगी। साथ में अस्पताल जाएगी। जो होगा सो देखा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग और एसएन मेडिकल कालेज की टीम पर भी कोई विकल्प नहीं था। लिहाजा मां के साथ बेटे को आइसोलेशन वार्ड में ले आए। हां, उन्हें अलग से बेहद सुरक्षित जोन में रखा गया है। मां बेटे को दूध भी पिला रही है। अब एसएन के डाक्टरों के पास इलाज के नाम पर दोनों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की चुनौती है। कारण कि बेटे से मां को भी संक्रमण का पूरा खतरा है। हालांकि मां को डाक्टरों की टीम ने ठीक से समझाया है। एन-95 मास्क भी दिया गया है। बेटे को कैसे छूना है, दूध कैसे पिलाना है, अपने हाथों को सेनेटाइज करते रहना है, सब बताया गया है।


क्या चाचा से हुआ भतीजे को संक्रमण
दुधमुंहे के मां-बाप पूरी तरह स्वस्थ हैं। लेकिन चाचा को संक्रमण निकला है। उन्हें भी कहीं अन्यत्र भर्ती किया गया है। जबकि दोनों परिवारों के घर अलग-अलग और खासे दूर हैं। डाक्टर पसोपेश में हैं कि संक्रमण चाचा से भतीजे को हुआ है या भतीजे से चाचा संक्रमित हुआ है। ये सवाल खासा परेशान कर रहा है। दोनों परिवारों में बहुत जरूरत होने पर ही आवाजाही होती है। सभी अपने-अपने काम में व्यस्त रहते हैं।












Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

कानपुर : वायरल ऑडियो मामले में पुलिस को दी गयी तहरीर, निदेशक बोले संस्थान की छवि धूमिल करने की हो रही साजिश।

आरोग्यधाम के सदस्यों ने शहरवासियों से इको फ्रेंडली दिवाली मनाने के साथ पर्यावरण को सुरक्षित रखने का किया आवाहन