उद्यमी बोले- कठिन समय मे लेबरों का साथ न छोड़ेंगे हम।

कोरोना वायरस ने औद्योगिक इलाकों में असर दिखाना शुरू कर दिया है । शहर की 8000 फैक्टरियों में उत्पादन जारी है लेकिन शनिवार से बड़ी संख्या में फैक्टरियों ने 48 घंटे के लिए उत्पादन बंद कर दिया है । मांग में कमी आने
और तैयार माल डंप होने से इस बात के पूरे आसार हैं कि जल्द ही उद्यमी कुछ समय के लिए शट डाउन ले सकते हैं । अच्छी बात है कि ज्यादातर संगठनों को दिहाड़ी मजदूरों की फिक्र है । उन्होंने तय किया है कि शट डाउन की स्थिति में उन्हें 10 - 15 दिन का एडवांस दिया जाएगा ताकि वे अपना घर चला सकें ।


- कोपे इस्टेट दादा नगर के चेयरमैन विजय कपूर ने कहा कि इंडस्ट्रीज का हाल बहुत बुरा है । कोई माल नहीं जा रहा है । दो - चार दिन में शट डाउन लेना ही पड़ेगा । उन्होंने कहा कि दिहाड़ी मजदूरों को पूरा पैसा ये सोचकर देंगे कि जहां इतना नुकसान हो रहा है , थोड़ा बहुत और झेललेंगे । आखिर वह अपना पेट कहांसे भरेंगे । इसलिए जबतक दम होगी , तब तक उन्हें पैसा देगें।



आईआईए कानपुर के मंडल _ अध्यक्ष आलोक अग्रवाल ने कहा कि अभी पनकी की अधिकांश फैक्टरियों में उत्पादन चालू है । लेकिन ये तय नहीं है कि आगे क्या करना है । हालांकि उत्पादन कम करने की योजना है । अधिकांश फैक्टरियां दो दिन के लिए बंद हो चुकी हैं । इस बंदी का पैसा काटा नहीं जाएगा लेकिन दिहाड़ी कर्मचारियों में ये लागू नहीं होगा क्योंकि आज वो एक फैक्टरी में हैं और कल कहीं और चले जाते हैं । _


_पीआईए के प्रदेश अध्यक्ष मनोज बंका ने कहा किलेबरों को समझाया जा रहा है कि मसाला खाना बंद करो । आने
और जाने के समय हाथ धोते रहो । टेम्पो आदि से आने वालों से अनुरोध किया जा रहा है कि अपने साधनों से आइए । सोमवार को इस बारे में फैसला लिया जाएगा कि आगे क्या करना है । बड़ी संख्या में उद्यमियों का मानना है कि फिलहाल शट डाउन ही एकमात्र रास्ता है । राष्ट्रीय आपदा है इसलिए स्टाफ को पूरा पैसा दिया जाएगा ।


Comments

Popular posts from this blog

#Kanpur - ऑनलाइन सट्टा किंग "सोनू सरदार" को कानपुर पुलिस ने जयपुर से किया अरेस्ट

Kanpur News-"आपदा को अवसर" में बदलने वाले कानपुर के दो युवा बने मिसाल, 70 हज़ार लोगों को 6 माह में दिया रोजगार..

#Kanpur :-ट्यूशन टीचर से रेप का मामला- DIG के निर्देश के बाद,FIR दर्ज आरोपी अरेस्ट