लॉकडाउन: यूपी में प्रियंका गांधी ने उतारे 'कांग्रेस के सिपाही', ऐसे कर रहे जरूरतमंदों की मदद

कानपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन किया गया है। ऐसे में गरीब और मजदूरों वर्ग को खाने-पीने की काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। केंद्र सरकार और राज्य सरकारें अपनी-अपनी तरफ से कदम उठा रही हैं, लेकिन लेकिन राजनीतिक दल भी पीछे नहीं हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पार्टी कार्यकर्ताओं की फौरन एक रेस्पॉन्स टीम बनाने का निर्देश दिया है, जो प्रदेश में जरूरतमंद लोगों की मदद करने का काम करेंगे। प्रियंका ने वॉलंटियर की इस टीम का नाम 'कांग्रेस सिपाही' रखा है।


पूर्व सांसद राजा राम पाल के मुताबिक, प्रियंका गांधी ने प्रदेश में लॉकडाउन के चलते कोई भी भूखा-प्यासा ना सोए इसके लिए कांग्रेस सिपाही नाम से एक टीम बनाने का निर्देश प्रदेश अध्यक्ष को दिया है। पीसीसी के समस्त पदाधिकारी अपने प्रभार क्षेत्र के जिला व शहर अध्यक्ष के मार्फत जिला और शहर की एक ज्वाइंट त्वरित रेस्पॉन्स टीम का गठन करेंगे। ये टीमें स्थानीय प्रशासन के सहयोग से 'कांग्रेस सिपाही' लोगों की मदद करेंगे। हम अपने सभी वॉलंटियर के ड्यूटी पास बनवाने का भी काम करेंगे ताकि उन्हें किसी तरह की कोई दिक्कत न हो। उन्होंने बताया कि लोगों की मदद के लिए हर जिले और शहर में पार्टी की ओर से कुछ हेल्पलाइन नंबर भी शुरू कर रहे हैं। इसके अलावा प्रदेश स्तर पर एक हेल्पलाइन नंबर शुरू हो चुका है, जिसके तहत लोगों की मदद की जा रही है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नजर कस्बा, पुरवा, टोला, झुग्गी झोपड़ी, कच्ची कालोनियों पर है। किसी को भी दिक्कत होगी तो उसतक भोजन पानी पहुंचाया जाएगा।


बता दें, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शुक्रवार को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने लिखा है कि कांग्रेस पार्टी कोरोना वायरस की इस जंग में प्रदेश सरकार के साथ है। उन्होंने आगे सीएम योगी को यह भी लिखा है कि सरकार सुनिश्चित करे कि योजनाओं का लाभ गरीबों तक पहुंच पाए।


शनिवार को कांग्रेसी नेता नरेश चंद्र त्रिपाठी के नेतृत्व में बर्रा और नौबस्ता क्षेत्र में गरीब और परेशान लोगों को लंच पैकेट का वितरण किया गया, नरेश त्रिपाठी ने बताया कि हमारी नेता प्रियंका गांधी के निर्देश पर  छोटे-छोटे लंच पैकेट बनाकर जरूरतमंदों तक पहुंचाने का काम शुरू कर दिया गया हैं। जो कि आगामी 15 अप्रैल तक प्रतिदिन 500 पैकेट वितरण किये जायेंगे ताकि कोई भूखा न सोए।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट