BJP MLA ने नमामि गंगे परियोजना में भ्रष्टाचार का लगाया आरोप, कहा- इसमें पार्टी के एक बड़े जनप्रतिनिधि शामिल


भाजपा विधायक अभिजीत ने कहा- जल्द इस मामले की शिकायत सीएम से करूंगा।
बिठूर विधानसभा से विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने कानपुर में चल रहे नमामि गंगे प्रोजेक्ट में घोटाले का आरोप लगाया
विधायक ने उन परिवारों को मीडिया के सामने पेश किया, जिन्हें अब तक मिला वेतन
कहा- समय आने पर भाजपा के बड़े नेता का नाम उजागर करूंगा, इससे पहले आवाज उठाई तो झूठे केस में फंसाने की साजिश रची गई


कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में बिठूर विधानसभा से भाजपा विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने गुरुवार को प्रेस कॉफ्रेंस कर सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट नमामि गंगे परियोजना में बड़े भ्रष्टाचार का आरोप लगा है। उनका आरोप है कि, गंगा घाटों की सफाई के नाम पर एक निजी कंपनी घोटाला कर रही है। जब इसके खिलाफ आवाज उठाई तो कंपनी और भाजपा के ही एक बड़े जनप्रतिनिधि ने मिलकर झूठे मामले में फंसाने की साजिश रच डाली।
विधायक अभिजीत ने कहा- कंपनी से जुड़ी एक महिला ने हाल ही में उन पर यौन शोषण तक का आरोप लगा डाला। हांलाकि विधायक ने उस बड़े भाजपा जनप्रतिनिधि का नाम तो नहीं उजागर किया, लेकिन आने वाले समय में नाम खोलने का वादा किया। उन्होंने बताया कि, वे जल्द ही पूरे मामले की शिकायत सीएम योगी से करने की तैयारी में हैं।


इस दौरान विधायक सांगा ने उन परिवारों को भी मीडिया से रुबरू कराया, जिन्हें सफाई कर्मचारी के तौर पर 30 से 35 हजार में रखा गया। लेकिन अब तक उन्हें वेतन नहीं दिया जा रहा है। विधायक ने कहा- भ्रष्टाचार में लिप्त कंपनी को पूरे प्रदेश में काम करने का ठेका लखनऊ से मिला है, जिसके चलते भ्रष्टाचार की जड़ें बेहद गहरी हैं। विधायक ने मामले की शिकायत तत्कालीन जिलाधिकारी से की थी। जिसे लेकर एसडीएम की जांच भी जारी है, तब भी लाखों रूपए की सैलरी रिलीज कर दी गई।


भाजपा विधायक का ये बयान उस वक्त आया है जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिजनौर से लेकर बलिया तक 26 जिलों में गंगा यात्रा पर निकलने वाले हैं। योगी ने गुरुवार को लखनऊ से गंगा रथ यात्रा की शुरुआत की है, जो गांव-गांव गंगा व प्रोजेक्ट से जुड़ी बातों का प्रचार करेगी।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट