रसूखदार वनस्पति कारोबारी समेत एक दर्जन पर धोखाधड़ी कर जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज।*


▶एसएसपी के निर्देश पर दर्ज हुए मुकदमें में बिठूर पुलिस नहीं कर रही कार्यवाही।
▶परेशान किसान के पुत्र ने मुख्यमंत्री को ट्वीट कर लगाई न्याय की गुहार।


कानपुर। शहर के एक नामी कारोबारी पर किसान की जमीन कब्जाने और धमकाने का मुकदमा बिठूर थाने में दर्ज किया गया है। पीड़ित किसान के अनुसार कारोबारी के भाई के खिलाफ भी कल्याणपुर थाने में मुकदमा दर्ज हो चुका है। कारोबारी वनस्पति समेत रियल इस्टेट का व्यवसाय करते है।
शुक्रवार को अशोक नगर स्थित कानपुर जर्नलिस्ट क्लब में प्रेस वार्ता में बिठूर के हिन्दूपुर गाँव निवासी किसान राम औतार पाल ने बताया की बिरहाना रोड निवासी जगदीश गुप्ता मेसर्स स्पेस प्रापर्टी एंड कंस्ट्रक्शन के निदेशक है साथ ही वनस्पति का बड़ा कारोबार है। पीड़ित किसान के अनुसार उसने आराजी संख्या 276 रकबा 0.2140 मौजा सिंहपुर कछार परगना बिठूर को निजि कार्य के लिये कारोबारी के यहां पांच लाख रूपये में बंधक रखने के लिये बात की थी। आरोप है कि, 31 अगस्त 2018 को वह कारोबारी के साथ कचहरी पहुंचा जहां उनकी बातों पर विश्वास कर बंधननामा के दस्तावेजों की लिखापढ़ी कर दी । धोखाधड़ी करके भूमि गिरवी के बजाये विनिमय विलेख करा लिया है। जिसे निरस्त कराने के लिये पीड़ित कोर्ट कचरही के चक्कर काटता रहा। पीड़ित किसान रामऔतार ने बताया कि,जगदीश गुप्ता और उनके बेटे जयेश,सिद्धार्थ गुप्ता उर्फ़ मोनू,समेत 1 दर्जन दबंग उन्हें जान से मारने की फिराक में है। पीड़ित किसान ने पुलिस पर कार्यवाही के नाम टाल मटोल का भी आरोप लगाया है। वही किसान के पुत्र राजेश ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ट्वीट कर न्याय की गुहार लगाई है।
वही इसी मामले में कारोबारी का पक्ष जानने के लिए बात की गई तो उनके पुत्र जयेश गुप्ता ने अपने खिलाफ दर्ज मुकदमा और किसान द्वारा लगाए गए आरोपों के विषय मे जानकारी से अनभिज्ञता जतायी।


Comments

Popular posts from this blog

कानपुर ज्योति हत्याकांड :- ज्योति के 6 हत्यारों को उम्रकैद की सजा, ज्योति के पिता बोले न्याय की जीत।

ज्योति हत्याकांड में आरोपियों को दोषी करार होने के बाद शंकर नागदेव बोले न्याय के प्रति नतमस्तक हूँ।

आरोग्यधाम के सदस्यों ने शहरवासियों से इको फ्रेंडली दिवाली मनाने के साथ पर्यावरण को सुरक्षित रखने का किया आवाहन