अब तक-93 SSP अनन्तदेव का ऑपरेशन क्लीन जारी....

अपराधियों में खौफः यहां की पुलिस कर देती है लंगड़ा, अब तक 93


*▶गंगाजल वाली पुलिस पवित्र करती थी ये लंगड़ करती है...*


*▶अपराध को जड़ से मिटाने और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए एसएसपी अनन्तदेव का ऑपरेशन क्लीन जारी...*


कानपुर :-बड़े बड़े अपराधी जिसके नाम से थर्राते हो उस पुलिस अफसर का नाम तो सुना ही होगा? जी हाँ हम बात कर रहे एसएसपी कानपुर नगर की एनकाउंटर स्पेसलिस्ट IPS अनन्तदेव तिवारी की शहर आने के बाद से ही अपराधियों पर कहर बरपा रही है कानपुर पुलिस। 
अपराधियों में खौफ जमाने के लिए एनकाउंटर पुलिस का सबसे कारगर हथियार है इस पर कई फिल्में भी बन चुकी हैं जिसमें एनकाउंटर की हकीकत भी आम आदमी के सामने आई कानपुर सिटी में भी बीते साल से एनकाउंटर का सिलसिला शुरू हुआ लेकिन यहां पुलिस की रणनीति में कुछ बदलाव दिखा गैंगस्टर को ठोकने के बजाय पुलिस ने यहां उन्हें लंगड़ा बनाने का काम शुरू किया तब से अब तक कानपुर में 93 हाफ एनकाउंटर हो चुके हैं. इसमें एक-दो को छोड़कर ज्यादातर अपराधियों के पैर में ही पुलिस की गोली लगी है।
शहर में हाफ एनकाउंटर का सिलसिला एसएसपी अनन्त देव के आते ही शुरू हो गया था पुलिस ने इस नए तेवर को देख अपराधी भी दुबक गए या फिर शहर छोड़कर भाग निकले, हाफ़ एनकाउंटर में जिन अपराधियों को गोली लगी उनका लंबा चौड़ा अपराधिक इतिहास पुलिस के पास है चुनाव के दौरान जहां मार्च में और अप्रैल में हाफ एनकाउंटर का सिलसिला धीमा पड़ा लेकिन उसके बाद से ताबड़तोड़ हाफ़ एनकाउंटर हो रहे है जबकि बुधवार देर रात ही पुलिस ने एक साथ दो अपराधियों का सामना हुआ तो मुठभेड़ में दोनों के पैर में गोली लगी है।


पुलिस के निशाने पर अपराधियों का पैर कानपुर पुलिस के हाफ एनकाउंटर के अभियान के बाद से ज्यादातर गैंगस्टर अपनी जान से ज्यादा अपने पैर बचाने के लिए छटपटा रहे हैं अभी तक जितने भी हाफ एनकाउंटर हुए उन्हें पुलिस की गोली अपराधियों के दाएं या बाएं पैर में घुटने के पीछे ही लगी आधी रात को अपराधियों के पैरों पर पुलिस की अचूक निशाने बाजी का खौफ इस कदर है कि बड़ी संख्या में अपराधी अपनी जमानत कटवा कर खुद जेल पहुंच गए हैं या फिर छोड़ कर ही भाग निकले शायद या एक बड़ी वजह है कि शहर में क्राइम ग्राफ भी कुछ कम हद तक कम हुआ है।


*दोनों अपराधियों का हाफ एनकाउंटर*


सीसामऊ और बजरिया पुलिस ने बुधवार देर रात जरीब चौकी चौराहे के पास जे के कॉटन मिल के पास हाफ एनकाउंटर में दो अपराधियों को पकड़ा- हाफ़ एनकाउंटर में दोनो अपराधियों के पैर में गोली लगी है। पकड़े गए अपराधियों के नाम शहर के थानों के रजिस्टर भरे पड़े है जिसमे से एक राजेश बाथम D 86 गैंग का लीडर है इसके खिलाफ लगभग 18 मुकदमे संगीन धाराओं में दर्ज है कुख्यात अपराधी के खिलाफ गैंगस्टर की भी कार्यवाही हो चुकी है।
वही दूसरा मोहम्मद फिरोज उर्फ अजमेरी का भी लम्बा आपराधिक इतिहास है इसके खिलाफ भी आधा दर्जन मुकदमे दर्ज है और गुंडा एक्ट की भी कार्यवाही हो चुकी है।


Comments

Popular posts from this blog

रूस कोविड-19 टीका: दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन 12 अगस्‍त को होगी पंजीकृत

Covid19 Treatment: दाद-खाज-खुजली और हाथी पांव की दवा से मर जाता है कोरोना वायरस, खर्च 25 से 30 रुपए

यूपी- 13 आईपीएस अफसरों समेत आठ जिलों के देर रात बदले कप्तान, देखें लिस्ट